Home देश मैं बताना चाहता हूं कि संविधान को जलाने वाला पहला इंसान भी...

मैं बताना चाहता हूं कि संविधान को जलाने वाला पहला इंसान भी मैं ही होऊंगा : डॉ. भीमराव आंबेडकर

104
0
(GNS),14 आजादी के बाद भारत को लोकतांत्रिक देश बनाने में बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर की अहम भूमिका थी, क्योंकि संविधान निर्माण में उनकी बड़ी रोल था. वह संविधान ड्राफ्टिंग कमेटी के मुखिया थे. 26 नवंबर 1949 को संविधान स्वीकार किया गया और 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया. इसके बाद ही भारत गणतंत्र कहलाया. फिर भी संविधान को अपनाने के महज तीन साल बाद एक वक्त ऐसा आ
Existing Users Log In
   
New User Registration
*Required field