Home डॉ. दीपक आचार्य रहम करें इन भूखों पर

रहम करें इन भूखों पर

145
0
SHARE
भूख अपने आप में वह महान और भयंकर शब्द है जो दुनिया में हर कहीं अपना वजूद बनाए हुए है। भूख का अर्थ सिर्फ पेट की भूख से नहीं है। भूख जात-जात की है। बड़े-बड़े पेट वाले भक्ष्य-अभक्ष्य सब कुछ निगल कर भी भूखे होते हैं तो बहुत बड़ी संख्या ऎसे लोगों की है जिन्हें दो रोटी तक नसीब नहीं होती। भरपेट भोजन करने वाले, पराया माल अपना समझ कर
Existing Users Log In
   
New User Registration
*Required field