Home देश उत्तराखंड विवाह के मौके पर नवदंपती रोपते हैं परिणय पौधा

विवाह के मौके पर नवदंपती रोपते हैं परिणय पौधा

35
0
SHARE
(जी.एन.एस) ता 19 हल्‍द्वानी बेटी की डोली विदा करते हुए माता-पिता का दिल खुशी और संतोष से भर उठता है। वहीं, विरह की पीड़ा भी उन्हें व्याकुल कर देती है। बिटिया जिस आंगन में पली-बढ़ी, विदा होने से पहले बाबुल के उसी आंगन में एक नन्हा सा पौधा रोप जाती है। ताकि बाबुल का आंगन उसके बिना सूना सा न लगे। लाडो का लगाया ये नन्हा पौधा बाबुल के लिए