Home देश युपी शिकायतों का निस्तारण ना करना 28 अधिकारियों को पड़ा महंगा, जिलाधिकारी ने...

शिकायतों का निस्तारण ना करना 28 अधिकारियों को पड़ा महंगा, जिलाधिकारी ने रोका वेतन

44
0
SHARE
(जी.एन.एस.)२८ जून, सोनभद्र। समन्वित शिकायत निवारण प्रणाली/आईजीआरएस पोर्टल के माध्यम से प्राप्त हो रही शिकायतों को नजरअंदाज कर समय से निस्तारण न करना पदीय दायित्वों का उल्लंघन है, लिहाजा लोकप्रिय सरकार की मंशा के मुताबिक काम न करने वाले लापरवाह अधिकारी वेतन के पात्र नहीं हो सकते अथवा तत्काल अपने कार्यों में सुधार लाते हुए डिफाल्ट हुए प्रकरण कों निस्तारित करें अन्यथा की स्थिति में गंभीर परिस्थितियों का सामना करने